News4All

Latest Online Breaking News

सुपौल/ राष्ट्रीय कैंसर जागरूकता दिवस पर निःशुल्क कैंसर रोग परामर्श सप्ताह का होगा आयोजन

7 से 14 नवम्बर तक होगी कैंसर की मुफ्त स्क्रीनिंग

सुपौल : जानलेवा बीमारी कैंसर से बचाव के लिए लोगों में कैंसर के प्रति जागरूकता फैलानी जरूरी है। गैर संचारी रोग की श्रेणी में आने वाली यह बीमारी हृदय रोग से होने वाली मृत्यु के बाद दूसरा सबसे बड़ा कारण है, जिससे लोगों की मृत्यु होती है। कैंसर से होने वाली मृत्यु में सबसे बड़ा योगदान तम्बाकु (धुआँ या धुआँ रहित) के उपयोग से होने वाली कैंसर का है, जिसे जागरूकता के माध्यम से रोका जा सकता है। कैंसर के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से प्रत्येक वर्ष 7 नवम्बर को राष्ट्रीय कैंसर जागरूकता दिवस का आयोजन किया जाता है। इस मौके पर सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देश के आलोक में जिले के सभी सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों पर 7 से 14 नवम्बर तक निःशुल्क कैंसर रोग परामर्श सप्ताह का अयोजन किया जाना है।

गैर संचारी रोग नियंत्रण पदाधिकारी डा. चंदन कुमार ने बताया जिले में कैंसर मरीजों की संख्या दिन ब दिन बढ़ती जा रही है। कैंसर रोग से ग्रसित मरीजों में कैंसर के लक्षण शुरुआती दिनों में दिखाई नहीं पड़ते हैं। जब कैंसर मरीज के शरीर में फैल जाता तो इससे बचना काफी मुस्किल हो जाता है। इसलिए लोगों को समय रहते इसकी जांच अवश्य करवानी चाहिए। समय रहते कैंसर ग्रसित होने का पता चलने पर इसका सफल इलाज संभव है। उन्होंने बताया निःशुल्क कैंसर रोग परामर्श सप्ताह के दौरान लगने वाले शिविर में आने वाले मरीजों को सामान्य कैंसर जैसे मुंह का कैंसर, स्तन कैंसर, गर्भाशय का कैंसर इत्यादि की स्क्रीनिंग की जाएगी। जिसमें विशेष रूप से महिलाओं के कैंसर (स्तन और गर्भाशय का मुख) की स्क्रीनिंग हेतु अलग से व्यवस्था की जाएगी। इस दौरान सामान्य कैंसर जैसे मुंह, स्तन और गर्भाशय के मुख के कैंसर इत्यादि के संभावित कारणों, लक्षणों एवं उसके बचाव के प्रति जागरूकता बढाई जाएगी। इन शिविरों में सामान्य कैंसर रोग के लक्षण वाले व्यक्तियों को राज्य के बेहतर स्वास्थ्य संस्थानों में कैंसर की चिकित्सा हेतु भेजा जायेगा।

जिला गैर संचारी रोग पदाधिकारी डा. चन्दन कुमार ने बताया जिले के सदर अस्पताल, अनुमंडलीय अस्पताल, रेफरल अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों, अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों, हेल्थ एवं वेलनेस सेंटरों व शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर निःशुल्क कैंसर रोग परामर्श सप्ताह का आयोजन करने के लिए दिशा निर्देश जारी किये गये हैं। कैंसर रोग की रोकथाम एवं लोगों में इसके प्रति जागरूकता फैलाने के लिए प्रचार प्रसार भी किया जाएगा। जिले भर में आयोजित होने वाले निःशुल्क कैंसर रोग परामर्श सप्ताह की जानकारी एक दिन पूर्व माइकिंग के माध्यम से दी जाएगी। साथ ही शिविरों में विशेष टीम द्वारा कैंसर की स्क्रीनिंग और प्रचार-प्रसार की गतिविधियों पर नजर भी रखी जाएगी।

कैंसर के लक्षणः

– मुंह के अंदर या बाहर छाले/जख्म बार-बार होना या ठीक नहीं होना
– मुंह के अंदर या जीभ पर उजले दाग
– कफ, पखाना, पेशाब या जननांग से रक्त का रिसाव
– स्तन में गांठ, स्तन से खून का रिसाव, रजोवृति के बाद रक्तस्राव
– जननांग रिसाव का दुर्गंधयुक्त होना
– शरीर पर गांठ के आकार में अप्राकृतिक वृद्धि।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.