News4All

Latest Online Breaking News

सुपौल/ मनरेगा के तहत पंचायत में मिला मजदूरों को रोजगार

✍️ अमरेश कुमार, सुपौल 

लगभग 150 परिवारों में खुशी की लहर

 

छातापुर (सुपौल) : कोरोना के इस दूसरी लहर और लॉकडाउन के चलते आम आदमी से लेकर दैनिक मजदूरी करने वालों लोगों को रोजगार नहीं मिलने से स्थिति दयनीय बनी हुई है। आलम यह है कि दैनिक मजदूरी करने वाले लोगों को घर का खर्च चलाना भी मुश्किल हो गया। वहीं अब मनरेगा योजना की पहल से मजदूरों को गांव में ही रोजगार दिया जा रहा है। ताकि दैनिक मजदूरी करने वाले अपने गांव में ही रोजगार के माध्यम से अपना भरण पोषण कर सके।

छातापुर के लक्ष्मीनियाँ पंचायत स्थित मिरचैया नदी के कारण मुहाने पर बसे गांव को अपने आगोश में लेने लगा है। जिसके कारण गाँव के अधिकांश लोग इसके धारा से प्रभावित हैं। इसी को देखते हुए मनरेगा योजना के तहत फ्लूड प्रोटेक्शन बाढ़ सुरक्षा हेतु नदी का चिरान कर उसके धारा को प्रवर्तित करने का काम किया जा रहा है। जिसमें क्षेत्र के दैनिक मजदूरी करने वाले लगभग 150 लोगों को रोजगार दिया गया है।

जानकारी अनुसार कार्य स्थल पर सरकारी निर्देश का अनुपालन किया जा रहा है। हर मजदूर को मास्क, सेनिटाइजर व साबुन उपलब्ध कराया गया है और समाजिक दूरी का पालन करते हुए कार्य करने का निर्देश दिया गया है। साथ ही कार्यस्थल पर शेड व चापाकल की भी व्यवस्था की गई है।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.