News4All

Latest Online Breaking News

दरभंगा/ दुर्गा पूजा व चेहल्लुम को लेकर हुई जिला शांति समिति की बैठक

: न्यूज़ डेस्क :

प्रत्येक आयोजन के लिए अधिकतम 50 व्यक्ति निर्धारित

 

दरभंगा : समाहरणालय अवस्थित अंबेडकर सभागार में जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस.एम. व वरीय पुलिस अधीक्षक श्री बाबूराम की संयुक्त अध्यक्षता में जिला शांति समिति की बैठक आयोजित की गयी। बैठक में दरभंगा नगर निगम के मेंयर श्रीमती बैजंयती देवी खेड़िया भी उपस्थित थीं। बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी ने वर्त्तमान चेहल्लुम व आगामी दुर्गा पूजा तथा आगामी विभिन्न त्योहारों के लिए कोविड-19 से सुरक्षा व बचाव को लेकर गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी दिशा सार्वजनिक स्थलों पर कार्यक्रम आयोजन तथा धार्मिक स्थलों के संबंध में जारी दिशा-निर्देश के आलोक में दरभंगा जिला के लिए कोविड अनुकूल जारी की गई मानक संचालन प्रक्रिया (एस.ओ.पी.) से अवगत कराते हुए बताया गया कि सार्वजनिक स्थलों पर कोई भी आयोजन बिना अनुमति के नहीं होगा ।

इसके साथ ही कोविड-19 से बचाव व सुरक्षा के लिए प्रत्येक आयोजन में 50 व्यक्ति की संख्या अधिकतम निर्धारित रहेगी। जुलूस, कलश यात्रा, पंडाल, लाउडस्पीकर सभी के लिए अलग-अलग अनुज्ञप्ति लेनी पड़ेगी। सभी प्रकार के मेला प्रतिबंधित रहेगा। सांस्कृतिक कार्यक्रम की अनुमति नहीं होगी। वर्त्तमान परिस्थिति में कहीं भी रावण वध कार्यक्रम की अनुमति नहीं होगी।
उन्होंने कहा कि आयोजक एवं स्वंय सेवक द्वारा टीका लिये जाने का प्रमाण-पत्र अनुज्ञप्ति के लिए आवेदन के साथ संलग्न करना आवश्यक होगा।

उन्होंने ऑनलाईन जुड़े सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी एवं थानाध्यक्ष को अपने-अपने क्षेत्र में शांति समिति की बैठक कर इस तथ्य से अवगत कराने एवं इसका सख्ती से अनुपालन कराने के निर्देश दिए ।

बैठक में शांति समिति एवं विभिन्न पूजा समितियों के सदस्यों द्वारा अपनी-अपनी बात रखी गयी तथा स्थानीय समस्याओं से अवगत कराया गया। पूजा पंडाल के समीप प्रकाश, नाला सफाई, ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव करवाने तथा शहर के कई स्थलों पर असामाजिक तत्वों के जमावड़ा होने की जानकारी दी गयी।

बैठक में उपस्थित वरीय पुलिस अधीक्षक ने सदर थानाध्यक्ष को उन स्थलों पर लगातार छापामारी करवाते रहने का निर्देश दिया।

चेहल्लुम के संबंध में उपस्थित समिति के सदस्यों द्वारा बताया गया कि चेहल्लुम के अवसर पर कुछ जगहों से अखाड़े निकलेंगे लेकिन उनमें 25 से 30 व्यक्ति नहीं रहेंगे निकलने वाले अखाड़ा में जारी गाइडलाइन का अनुपालन पूर्णतः करवाया जाएगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि जिला शांति समिति एवं पूजा समितियों के सहयोग से विगत वर्षों में सभी त्योहार शांतिपूर्वक सम्पन्न होते रहे हैं और इस वर्ष भी सबके सहयोग से शांतिपूर्ण तरीके से सभी त्यौहार सम्पन्न होंगे।
वरीय पुलिस अधीक्षक ने कहा कि शांति समिति एवं पूजा समिति के तमाम सुझाव पर अमल किया जाएगा। उन्होंने थानाध्यक्षों को निदेशित किया कि शहरी क्षेत्र में निजी प्रतिष्ठानों द्वारा लगवाये गए सी.सी.टी.वी. कैमरा का निरीक्षण कर बन्द सी.सी.टी.वी. को चालू करवा दिया जाए। उन्होंने पूजा समितियों को कहा कि यदि पूजा समितियों के वालंटियर (स्वंय सेवक) किसी खास वेशभूषा में पहचान पत्र के साथ सेवा भाव से रहेंगे, तो पूजा अच्छी तरह सम्पन्न हो जाएगी।

बैठक में उपस्थित मेयर श्रीमती बैजंयती देवी खेड़िया ने कहा कि शहरी क्षेत्र में जहाँ भी पुलियाँ व सड़क क्षतिग्रस्त है, उनकी मरम्मति करा दी जाएगी। पूजा स्थलों के समीप के जलजमाव को हटवा दिया जाएगा। प्रकाश एवं पानी की व्यवस्था विगत वर्षों की तरह की जाएगी। उन्होंने पूजा समितियों से कहा कि वे महिलाओं को घर में ही संध्या आरती करने हेतु प्रेरित करें, जैसे विगत वर्ष किया गया था। इससे वे सुरक्षित भी रहेंगी और कोविड के लिए जारी गाइडलाइन का भी अनुपालन होगा।

बैठक में उप विकास आयुक्त तनय सुल्तानिया, अनुमण्डल पदाधिकारी सदर स्पर्श गुप्ता, उप निदेशक, जन सम्पर्क नागेन्द्र कुमार गुप्ता, दरभंगा सदर के पुलिस उपाधीक्षक कृष्ण नंदन कुमार, विशेष कार्य पदाधिकारी अजय कुमार सहित संबंधित पदाधिकारी एवं जिला शांति समिति के सदस्यगण एवं पूजा समिति के प्रतिनिधिगण उपस्थित l

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.