News4All

Latest Online Breaking News

चंडीगढ़/ महर्षि दयानंद पब्लिक स्कूल के बच्चों ने जल संरक्षण विषय पर नाटक का किया मंचन

चंडीगढ़ : महर्षि दयानंद पब्लिक स्कूल ने अपने परिसर एमडीएवी भवन, दरिया में जल संसाधन दिवस के उपलक्ष्य पर नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया । यह आयोजन पर्यावरण विभाग चंडीगढ़ प्रशासन के सहयोग से किया ।

स्टूडेंट्स ने सन्देश दिया कि धरती पर सभी जीवित प्राणियों के लिए जल अनिवार्य संसाधन है। स्वच्छ पेय जल निरन्तर कम हो रहा है। सूखे क्षेत्रों में लोगों को पानी की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। पानी के व्यर्थ बहाव और जलाशयों में कूड़ा करकट डालने से जल प्रदूषित हो जाता है। जल के अभाव में हर वर्ष असंख्य पशु- पक्षी और मनुष्यों की मृत्यु हो जाती है। व्यर्थ पानी के बहाव पर नियंत्रण अति आवश्यक है। कई लोग जल का दुरूपयोग करते हैं। उन्हें पानी की समस्या से अवगत होते हुए इसके जागरूकता फ़ैलाने में आगे आना चाहिए। हर कार्य की पहल स्वयं से करनी होगी। सोचने का नजरिया बदलना होगा। जलाशयों का संरक्षण होना आवश्यक है। वनों की पर्यावरण को स्वच्छ रखने में अहम भूमिका है। ये जल को शुद्द रखने में योगदान देते है, इसलिए पौधरोपण किया जाना चाहिए। जनसँख्या बढऩे से पानी का संकट मनुष्य के सामने है। विश्व में प्रदूषित होते जल संसाधनों को बचाया जाना अति आवश्यक है। पानी की हर बूँद अमूल्य है। स्टूडेंट्स ने वेस्ट वाटर के सही उपयोग के ढंग भी बताये।

बढ़िया मंचन के लिए स्टूडेंट्स को पुरस्कार से समान्नित भी किया गया। प्रिंसिपल डॉ. विनोद कुमार ने बताया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य जल संसाधनों को स्वच्छ एवं संरक्षित रखने की महता की जानकारी देना था।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.