News4All

Latest Online Breaking News

चंडीगढ़/ हॉकी चंडीगढ़ ने मनाया ओलंपिक दिवस

इस अवसर पर पर हॉकी खिलाड़ियों को किया गया सम्मानित

पंजाब के कैबिनेट मंत्री हरपाल सिंह चीमा मुख्य रहे मुख्य अतिथि

चंडीगढ़ : हॉकी चंडीगढ़ ने वीरवार को सेक्टर 42 हॉकी स्टेडियम में ओलंपिक दिवस मनाया। इस अवसर पर पंजाब के कैबिनेट मंत्री हरपाल सिंह चीमा मुख्य अतिथि थे।

इस अवसर पर बोलते हुए मंत्री ने कहा कि यह वास्तव में सराहनीय है कि ओलंपिक दिवस मनाया जा रहा है। उन्होंने हॉकी चंडीगढ़ के लिए 10 लाख रुपये की घोषणा की। उन्होंने कहा कि पंजाब और चंडीगढ़ के खिलाड़ी राष्ट्रीय टीम में भारतीयों का प्रतिनिधित्व करते हैं और इस क्षेत्र ने इस देश को प्रमुख ओलंपियन दिए हैं। खेलों विशेषकर हॉकी में पंजाब की प्रमुख भूमिका है। खेलों को बढ़ावा देने और विशेष रूप से गांवों में युवाओं को खेलों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए विशेष बजट तैयार किया जा रहा है ताकि वे राज्य स्तर और बाद में राष्ट्रीय स्तर पर उत्तीर्ण हो सकें। उन्हें सर्वोत्तम बुनियादी ढांचा और सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

हॉकी चंडीगढ़ के प्रेसिडेंट करण गिल्होत्रा, जो एक प्रसिद्ध परोपकारी और करण गिल्होत्रा फाउंडेशन के फाउंडर भी हैं, ने इस अवसर पर बोलते हुए कहा, “हॉकी चंडीगढ़ का हमेशा खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने का प्रयास रहा है और खेल को बढ़ावा देना जारी रहेगा। पिछले ओलंपिक में अपने खिलाड़ियों को उत्कृष्ट प्रदर्शन करते देखना वास्तव में देश के लिए गर्व का क्षण था। करण गिल्होत्रा पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री, पंजाब के को-चेयर और प्लाक्षा यूनिवर्सिटी के फाउंडर भी हैं।

इस अवसर पर सीआईएसएफ और सीएफएचए-42 के बीच प्रदर्शनी हॉकी मैच खेला गया। हॉकी चंडीगढ़ के जनरल सैक्रेटरी अनिल वोहरा ने भी इस अवसर पर बात की।

इस अवसर पर हॉकी चंडीगढ़ ने सिटी ब्यूटीफुल के उभरते हुए और जरूरतमंद खिलाडियों को हमारे राष्ट्रीय खेल हॉकी को बढ़ावा देने के लिए ब्रांडेड हॉकी स्टिक प्रदान की।

हॉकी चंडीगढ़ ने इस शुभ अवसर पर गगन अजीत सिंह, दीपक ठाकुर, धर्मवीर सिंह,रूपिंदर पाल सिंह, जॉयदीप कौर और अन्य जैसे ओलंपियन अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों को भी सम्मानित किया।

इस अवसर पर हॉकी चंडीगढ़ के वरिष्ठ पदाधिकारी और सदस्य पुष्विंदरजीत सिंह, सीनियर वाइस प्रेसिडेंट, डॉ. चंदर शेखर, आईपीएस संरक्षक और अन्य लोग मौजूद थे।

चंडीगढ़ के विभिन्न खेलों के लगभग 700 खिलाड़ी अपने प्रशिक्षकों के साथ ओलंपिक दिवस मनाने के लिए उपस्थित थे। इस मौके पर केक कटिंग सेरेमनी का भी आयोजन किया गया।