News4All

Latest Online Breaking News

चंडीगढ़/ मोहाली के गिलको इंटरनेशनल स्कूल में शुरू हुई विजुअल एंड परफॉर्मिंग आर्ट अकादमी

एकेडमी में प्रशिक्षण के लिए उम्र एवं शिक्षा का नही रहेगा कोई बंधन


मोहाली : गिलको इंटरनेशनल स्कूल ने अपने स्कूल परिसर में बच्चों के लिए संध्याकालीन विजुअल एंड परफॉर्मिंग आर्ट अकादमियां खोलने की घोषणा की है। इसमें रंगमंच, नृत्य, भांगड़ा , फिटनेस , कला एवं शिल्प सहित अलग-अलग अकादमियां हैं जो विभिन्न प्रशिक्षकों द्वारा संचालित की जाएंगी। अन्य विद्यालयों के छात्र भी यहाँ अपनी रुचि की अकादमी में अपना नामांकन करवा सकते हैं।


शनिवार को चंडीगढ़ प्रेस क्लब में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए गिल्को इंटरनेशनल स्कूल की प्रिंसिपल रूचि शर्मा ने कहा , शिक्षा का मुख्य उद्देश्य बच्चे का सर्वांगीण विकास करना है। हर बच्चे में एक विशिष्ट क्षमता होती है और इसके साथ ही उमने उत्कृष्टता प्राप्त करने की क्षमता भी होती है। इसी दृष्टिकोण और मिशन को केंद्र में रखते हुए हमने अकादमियां खोलने का फैसला किया।
द नैरेटर्स परफॉर्मिंग आर्ट्स सोसाइटी द्वारा जूनियर और सीनियर छात्रों के लिए सप्ताह में दो बार अलग-अलग रंगमच अकादमी चलाई जाएगी। द नैरेटर्स एक प्रसिद्ध सोसाइटी है जो कला के प्रदर्शन के लिए विख्यात है। निशा लूथरा इसकी अध्यक्ष हैं और साथ ही यह भारत में आयरलैंड के लीनस्टर स्कूल ऑफ म्यूजिक एंड ड्रामा की प्रमुख भी हैं।


इसमौके पर निशा ने बताया कि रंगमंच केवल पुर्वभाय्स और नाटकों तक ही सीमित नहीं है, बल्कि इसका व्यापक परिप्रेक्ष्य है। एनटीए-नैरेटर्स थिएटर एकेडमी का दृष्टिकोण विभिन्न नाट्य गतिविधियों जैसे माइम, कठपुतली, नुक्कड़ नाटक, स्केचिंग, पेंटिंग और भरतनाट्यम आदि के माध्यम से छात्रों का सर्वांगीण विकास करना है।


इन अकादमियों का लक्ष्य मोहाली, पंचकुला, खरड़ और चंडीगढ़ के बच्चों की जरूरतों को पूरा करना है।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.