News4All

Latest Online Breaking News

सहरसा/ गर्मी व लू से लोग लगातार प्रभावित हो रहे : बचने के उपाय करना आवश्यक

आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा जारी किये गये आवश्यक दिशा निर्देश

सभी विभागों को दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

 

सहरसा : जिले में बढ़ती गर्मी लोगों के परेशानी का कारण बन रही है। सदर अस्पताल सहित अन्य स्वास्थ्य संस्थानों में बढ़ती गर्मी से प्रभावितों का आना जारी है। इस बीच जरूरी है कि लोग इस बढ़ती गर्मी से बचने के आसान एवं सुलभ उपायों को अपनाते हुए इससे बचें। कृषि, व्यापार एवं शादी संबंधी गतिविधियों के बीच कहीं कोई अप्रिय घटना न होने पाये इसके लिए जरूरी है कि अपने कार्यों को सम्पादित करने के लिए समय का उचित चुनाव करें। जब गर्मी चरम पर हो तो घरों से बाहर निकलने से बचें। कार्य स्थलों पर पीने के पानी का उचित प्रबंधन जरूर करें। कार्य स्थलों पर काम करने की अवधि में भी आवश्यक बदलाव करते हुए गर्मी से बचें। सरकार द्वारा भी गर्मी व लू से बचाव के आवश्यक प्रचार प्रसार के साधनों का उपयोग किया जा रहा है। ताकि लोग इसके प्रति जागरूक हो सकें।

गर्मी व लू से बचने के उपायों को अपनाना श्रेष्यकर-
एकीकृत रोग निगरानी कार्यक्रम (आईडीएसपी) के जिला कार्यक्रम समन्वयक प्रणव कुमार ने बताया वर्त्तमान समय जिले में कृषि, व्यापार, वैवाहिक सहित अन्य सामाजिक एवं धार्मिक गतिविधियों का सतत् आयोजन हो रहा है। ऐसे में जब गर्म हवाओं व लू का चलना जारी है। इससे बचने के उपायों को अपनाना जरूरी है। तभी हम इनके दुष्परिणामों से बच पायेंगे। बढ़ती गर्मी की अनदेखी किसी भी स्तर से नहीं की जानी चाहिए। सरकार द्वारा गर्मी के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए शैक्षणिक संस्थानों सहित कई सरकारी कार्यालयों के संचालन के अवधि में आवश्यक बदलाव किया गया है। किन्तु कई कार्यस्थल ऐसे हैं जहां ऐसा किया जाना संभव नहीं है। साथ ही कृषि, व्यापार, निर्माण, उत्पादन सहित कई कार्य क्षेत्र ऐसे हैं जहाँ समय का प्रबंधन कठिन हो जाता है। ऐसे में गर्मी व लू से बचाव के उचित उपायों को अपनाना ही श्रेष्ठ होगा।

सभी विभागों को जारी किये गये आवश्यक दिशा-निर्देश-
जिला कार्यक्रम समन्वयक प्रणव कुमार ने बताया आपदा प्रबंधन विभाग, बिहार सरकार द्वारा गर्म हवाओं व लू से बचने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश जारी किये गये हैं। जिसके आलोक में सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों/रेफरल अस्पतालों/सदर अस्पतालों/अनुमंडलीय अस्पतालों/मेडिकल कॉलेजों में लू से प्रभावितों के इलाज हेतु विशेष व्यवस्था, सभी स्वास्थ्य केन्द्रों एवं अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में ओ.आर.एस. पैकेट, आई.सी. फ्लूड, जीवन रक्षक दवा आदि की व्यवस्था करने की निर्देश दिये गये हैं। सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों पर पेयजल की समुचित सुविधा, ओ.आर.एस. पैकेट सहित लू से बचाव के प्रचार सामग्रियों का प्रदर्शन किया जाना सुनिश्चित करने के भी निर्देश जारी किये गये हैं। वहीं आपदा विभाग द्वारा विभिन्न विभागों नगर आवास एवं आवास, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण, शिक्षा विभाग, समाज कल्याण विभाग, पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग, ग्रामीण विकास विभाग, पंचायती राज विभाग, श्रम संसाधन विभाग, परिवहन विभाग, ऊर्जा विभाग, पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्त्तन विभाग, राज्य अग्निशमन निदेशालय, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग, सूचना प्रावैधिकी विभाग सहित जिले के सभी जिलाधिकारियों को भी आवश्यक दिशा-निर्देश के साथ पत्र जारी किये गये हैं।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.