News4All

Latest Online Breaking News

लखीमपुर/ भारत विकास परिषद की संस्कृति शाखा ने सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में जाकर ग्रामीण क्षेत्र के शिक्षकों को किया सम्मानित

✍️ अनिल कुमार श्रीवास्तव

लखीमपुर : ग्रामीण क्षेत्र में शहरी चकाचौंध से दूर शिक्षा की अलख जगा रहे कर्मठ शिक्षकों को भारत विकास परिषद की संस्कृति शाखा लखीमपुर द्वारा शिक्षक दिवस के अवसर पर सम्मानित किया गया। उक्त कार्यक्रम मुख्यालय से लगभग 20किमी दूर ग्राम केवलपुरवा के जवाहर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में आयोजित किया गया। इस शिक्षक सम्मान समारोह में उक्त विद्यालय के तीन, कृषक समाज उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, खैंइया के दो व प्राथमिक विद्यालय, चपरतला से एक शिक्षक को आदर्श शिक्षक सम्मान से अलंकृत किया गया।

संस्थाध्यक्ष एड० आर्येन्द्र सिंह की अध्यक्षता में आयोजित इस भव्य आयोजन में संस्था सदस्यों के साथ जवाहर उ० मा० विद्यालय की प्रबंध समिति के अध्यक्ष सत्येन्द्र तिवारी, प्रबन्धक वीरेन्द्र तिवारी, उपाध्यक्ष बनवारीलाल सत्यार्थी, प्रधानाचार्य राम बसन्त जी व कार्यकारिणी सदस्य कृष्ण कुमार त्रिपाठी की सक्रिय सहभागिता रही। भारत माता के वंदनोपरान्त प्रखर शिक्षाविद श्रद्धेय डा०सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए गये। उनके जीवन वृतांत का स्मरण करते उनके व्यक्तित्व व कृतित्व को दर्शाया गया। शिक्षक दिवस के रूप में उनकी जयंती को मनाते हुये शहर की चकाचौंध से दूर ग्रामीण आंचल में शिक्षा की अलख जगा रहे कुछ शिक्षकों को संस्कृति शाखा द्वारा माल्यार्पण करके व प्रशस्ति पत्र एवं प्रतीक चिह्न देकर सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम के शुभारंभ पर विद्यालय के संस्थापक स्व० पं० सरजू प्रसाद तिवारी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। इस कड़ी में जवाहर उ०मा०विद्यालय के शिक्षक विनोद गुप्ता, विनय मिश्रा व लवकुश शुक्ला, कृषक समाज उ० मा० विद्यालय के शिक्षक कृष्ण कुमार त्रिपाठी व इच्छेश शुक्ला और प्राथमिक विद्यालय चपरतला की प्रधान अध्यापिका श्रीमती ज्योति सिंह को सम्मानित किया गया।

शिक्षक दिवस व जन्माष्टमी से सम्बन्धित एक प्रश्नोत्तरी भी आयोजित की गई व सही उत्तर देने वाले छात्र- छात्राओं को पुरस्कृत किया गया। विद्यालय प्रबंधन ने संस्था के इस अभिनव प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि ऐसे कार्यक्रमों से बच्चों का ज्ञानवर्धक होने के साथ संस्कृति के प्रति जागरूकता बढ़ती है।

कार्यक्रम में विद्यालय प्रबंधन, शिक्षक समुदाय ,छात्र-छात्राओं के अतिरिक्त संस्कृति शाखा के अध्यक्ष आर्येन्द्र सिंह, सचिव शुक्ला रूपाली कुमार, महिला संयोजिका वर्षा सक्सेना, शाखा समन्वयक अनुज शुक्ला, ज्योति सिंह, विनीता त्रिपाठी, रानी तिवारी, परिधि शुक्ला, पुष्पांजलि सिंह, नीलम गुप्ता, कृष्ण कुमार त्रिपाठी, दुर्गेश गुप्ता व श्वेता मिश्रा सहित भारी तादाद में जन समुदाय उपस्थित रहा।