दरभंगा/ जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जल-जीवन-हरियाली को लेकर हुई समीक्षा बैठक – News4 All

News4 All

Latest Online Breaking News

दरभंगा/ जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जल-जीवन-हरियाली को लेकर हुई समीक्षा बैठक

😊 Please Share This News 😊

दरभंगा : समाहरणालय अवस्थित बाबा साहेब डॉ. भीमराव अम्बेदकर सभागार में मंगलवार को जिलाधिकारी राजीव रौशन की अध्यक्षता में जल-जीवन-हरियाली अभियान की प्रगति की समीक्षा बैठक की गयी । बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि अमृत सरोवर योजना के अन्तर्गत इस तरह से तालाब बनाया जाए, जो आकर्षक एवं लाभप्रद हो। इसके अन्तर्गत 05-06 तालाबों को एक साथ लिया जा सकता है, एक तालाब बीच में रहे और चारो तरफ छोटे-छोटे तालाब रहें, यदि बाहर के तालाब में पानी 3-04 फीट से ज्यादा हो जाये, तो अन्दर वाले तालाब में पानी ले जया जा सके, इस तरह निर्माण किया जाए।

उन्होंने कहा कि इस योजना के अन्तर्गत 75 सरोवर बनाये जाने हैं, 48 में काम शुरू किये गये हैं, उन्हें जल्द पूरा करना है तथा शेष चिन्ह्ति तालाबों में 10 दिनों के अन्दर अमृत सरोवर का काम शुरू करवाना सुनिश्चित करें। इन सभी तालाबों के किनारे फ्लैग पोस्ट भी बनेगा, जहाँ 15 अगस्त एवं 26 जनवरी को झण्डोत्तोलन कार्यक्रम किया जाएगा।

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) एवं आवास प्लस योजना की समीक्षा के दौरान उन्होंने निदेशित किया कि आवास योजना के लाभुको को 90 दिनों का काम व मजदूरी मनरेगा के तहत निश्चित रूप से मिल जाए, यह सुनिश्चित करना संबंधित प्रखंड प्रोग्राम पदाधिकारी की जिम्मेवारी होगी।

उन्होंने सभी प्रोग्राम पदाधिकारी को प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण एवं आवास प्लस योजना के लाभुकों की सूची अपने प्रखण्ड विकास पदाधिकारी से प्राप्त कर उक्त निदेश सुनिश्चित करवाने का निर्देश दिया तथा चेतावनी देते हुए कहा कि यदि आवास निर्माण कार्य 90 दिनों या उससे ज्यादा दिन में पूरा किया गया है और उसके लाभुक को 90 दिन का काम नहीं मिला है, तो संबंधित प्रोग्राम पदाधिकारी को दोषी मानते हुए उसके विरूद्ध सीधे कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि 01 से 05 एकड़ तक के जितने तालाब जल- जीवन- हरियाली पोर्टल पर हैं या सर्वे में मिले हैं, सबों का सत्यापन करके पोर्टल पर अपलोड करावें।

चापाकलों की सूची लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण संगठन से प्राप्त कर उनके समीप सोख्ता का निर्माण करा लें। उन्होंने कहा कि सोख्ता का निर्माण सरकार द्वारा निर्धारित मापदंड के अनुसार होना चाहिए।

वृक्षारोपण की समीक्षा के दौरान बताया गया कि प्रत्येक पंचायत में 10-10 यूनिट पौधारोपण किया जाना है, एक यूनिट में 400 पौधे रहते हैं। जिले में कुल 309 पंचायत है, इस प्रकार 12 लाख 36 हजार पौधारोपण किया जाना है।
जिलाधिकारी ने कहा कि वृक्षारोपण के लिए अनुकूल समय आ रहा है जुलाई माह से पौधारोपण प्रारंभ किया जाए। दरभंगा जिला में जहाँ भी सरकारी जमीन खाली है, तथा जितने भी सरकारी संस्थान हैं, उनके परिसर में पौधारोपण किया जाए। इसके लिए जमीन की सूची संबंधित अंचलाधिकारी से प्राप्त कर ली जाए। बाढ़ वाले क्षेत्र में वैसे पौधे लगाया जाए, जो पानी को बर्दाशस्त करने की क्षमता रखता है यथा – जामुन, मोहगनी, अर्जुन का पौधा।

दिल्ली मोड़ बस स्टैण्ड के वैकल्पिक रास्त के संबंध में बताया गया कि एक रास्ता का निर्माण कार्य पूरा होने को है। जिलाधिकारी ने दूसरी ओर के रास्ता भी बनवा देने का निर्देश दिया। साथ ही दरभंगा हावाई अड्डा के समीप अस्थायी पार्किग स्थल पर जल्द कार्य शुरू कराने का निर्देश दिया।

बैठक में उप विकास आयुक्त अम्रिषा बैंस द्वारा सभी प्रखण्डों में बनाये जा रहे अमृत सरोवर एवं जीर्णोद्धार किये जा रहे तालाबों तथा प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) एवं आवास प्लस योजना, जॉब कार्ड को आधार से लिंक करने की प्रगति, मनरेगा के अन्तर्गत ससमय मजदूरी भुगतान, डब्ल्यू.पी.यू. का निर्माण कार्य की समीक्षा प्रखण्डवार किया गया।

बैठक में उप निदेशक, जन सम्पर्क नागेन्द्र कुमार गुप्ता, सभी प्रखण्ड के प्रोग्राम पदाधिकारी, मनरेगा के कार्यपालक अभियंता, सभी प्रखण्ड के कनीय अभियंता एवं लेखापाल उपस्थित थे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!