चंडीगढ़/ वर्ल्ड बुक डे पर व्हाइट फाल्कन पब्लिशिंग द्वारा 24 लेखकों को किया गया सम्मानित – News4 All

News4 All

Latest Online Breaking News

चंडीगढ़/ वर्ल्ड बुक डे पर व्हाइट फाल्कन पब्लिशिंग द्वारा 24 लेखकों को किया गया सम्मानित

😊 Please Share This News 😊

चंडीगढ़ : वर्ल्ड बुक डे समारोह के तहत शनिवार को चंडीगढ़ प्रेस क्लब में एक साहित्यिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया । स्थानीय पब्लिशिंग हाउस व्हाइट फाल्कन पब्लिशिंग द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में अंग्रेजी में पोएट्री रेसिटेशन और साहित्य में उनके योगदान के लिए क्षेत्र के लेखकों का सम्मान करना शामिल था।

कार्यक्रम में 24 स्थानीय लेखकों को सम्मानित किया गया।समारोह की अध्यक्षता चंडीगढ़ कॉलेज ऑफ आर्किटेक्चर के प्रख्यात लेखक और पूर्व प्रिंसिपल डॉ एसएस भट्टी ने की।

लेखकों में डॉक्टरों, सीनियर आर्मी ऑफिसर्स, जर्नलिस्ट्स, आर्किटेक्टस, मोटिवेशनल स्पीकर्स, होममेकर्स, फिल्म डायरेक्टर्स, आईटी प्रोफेशनल और गवर्नमेंट ऑफिसियल सहित विभिन्न क्षेत्रों के प्रोफेशनल शामिल थे। कार्यक्रम में पुरस्कार विजेताओं द्वारा प्रकाशित पुस्तकों का भी प्रदर्शन किया गया।

कार्यक्रम के दौरान डॉ. एसएस भट्टी, आदित्य कांत, परमिला गुप्ता, बीएस मंडर, डॉ. सुलेखा शर्मा, सरबजीत बाहगा, लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) विपन गुप्ता, डॉली लांबा, सुरिंदर बाहगा, हेमंत चोपड़ा, संजीव कुमार जैन, अखिलेश मुंजाल, चरणजीत आहूजा, अनिल कुमार भाटिया, राकेश सहगल, प्रोमिला, सुमन मुखर्जी, खेमलता नेगी, अमनजीत सिंह बराड़, वनीत सोढ़ी, समीर चोपड़ा, नविता सिंह, जोबन शेरखान और डॉ सुखतेज साहनी को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

व्हाइट फाल्कन पब्लिशिंग की फाउंडर, नवसंगीत कौर ने कहा, “किसी की ज्वलंत कल्पना का प्रमाण, सच्चे खातों का संकलन, भविष्य की पीढ़ियों के लिए तथ्यों को संदर्भित करने के लिए हर पुस्तक इतिहास में सलाह के एक टुकड़े के रूप में ली जाती है, इसलिए, आज हम अपने लेखकों को साहित्य के प्रति उनके योगदान और हमें उनकी पुस्तकों को प्रकाशित करने का अवसर देने के लिए सम्मानित करते हुए खुशी हो रही है।”

इस कार्यक्रम में इंग्लिश रेसिटेशन खेमलता नेगी, हिंदी रेसिटेशन प्रोमिला और पंजाबी रेसिटेशन जोबन शेरखान द्वारा किया गया था। जिसके बाद आगामी पुस्तकों का अनावरण किया गया जिसमें डॉ एसएस भट्टी द्वारा द सिख गुरुज़ – एम्बोडिमेंट्स ऑफ़ द शब्द , अमनजीत सिंह बराड़ द्वारा करतारेया , सरबजीत बाहगा द्वारा न्यू इंडियन आर्किटेक्चर (1947-2020) ,राकेश सहगल की कहानी ग्रिट, ग्राइंड एंड ग्लोरी – ए कैडेट तथा सुमन मुखर्जी द्वारा कन्वर्सेशन विद अ योगी शामिल हैं।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!