सहरसा/ मिथिला के प्रसिद्ध चैती महोत्सव का कल किया जाएगा आयोजन – News4 All

News4 All

Latest Online Breaking News

सहरसा/ मिथिला के प्रसिद्ध चैती महोत्सव का कल किया जाएगा आयोजन

😊 Please Share This News 😊

दर्जनों कलाकारों का होगा जमावड़ा

 

सहरसा : प्रत्येक वर्ष की भाँति इस वर्ष भी स्थानीय इस्लामिया चौक (गोल्डेन पब्लिक स्कूल के नजदीक) स्थित संगीत के विद्वान साधक प्रोफेसर अखिलेश्वर प्रसाद सिंह के आवास पर चैती महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है । कल शाम 6 बजे से आयोजित होनेवाले इस महोत्सव की अध्यक्षता लब्धप्रतिष्ठित संगीत साधक नारायण सिंह करेंगे । इस महोत्सव में कोशी कमिश्नरी के स्थापित शास्त्रीय संगीत,सुगम संगीत व लोकगीत के दर्जनों कलाकारों का जमावड़ा देखने को मिलेगा ।

कार्यक्रम की जानकारी देते हुए मशहूर उदघोषक सह संगीत शिक्षक मुकेश मिलन ने बताया कि छपरा से पंडित ओंकार नाथ ठाकुर के शिष्य गिरिधर गोपाल मुख्य अतिथि के रूप में कार्यक्रम की शोभा बढ़ाएंगे । साथ ही इस चैती महोत्सव में सहरसा मधेपुरा और सुपौल से प्रोफेसर गिरिधर कुमार श्रीवास्तव ‘पुटिश’, प्रोफेसर अरुण कुमार बच्चन, शशिभूषण यादव, किशनदास, प्रोफेसर अरुण कुमार यादव, कन्हैया सिंह कन्हैया, रामु अवस्थी, कुंदन कुमार सिंह, प्रमोद कुमार, गांधी मिस्त्री आदि अनेक गणमान्य कलाकार अपनी अपनी गायिकी से चैती महोत्सव में चार-चाँद लगायेंगें ।

ज्ञात हो कि बिहार और उत्तर प्रदेश मे चैत महीने में गाये जानेवाले गीत को चैता, चैती तथा मिथिला में चैतावर गीत कहा जाता है । इन गीतों में मुख्य रूप से इस महीने का वर्णन श्रृंगार रस में होता है लेकिन अब यह गीत संगीत कार्यक्रम विलुप्त होने के कगार पर पहुँच गया है जिसके कारण लोगों को इस गीत की जानकारी नहीं हो पाती है । चैतावर गीत में श्रृंगार, विरह, वेदना आदि की झलक दिखाई पड़ती है । शास्त्रीय संगीत के साधक विभिन्न रागों में चैती बंदिशों को पूरे मिज़ाज़ में गाते बजाते हैं ! होली दिन से ही चैतावर गायन की शुरुआत होती है ।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!