सहरसा/पटना/ वैक्सीनेटेड परीक्षार्थी ही मैट्रिक और इंटरमीडिएट परीक्षा में होंगे शामिल – News4 All

News4 All

Latest Online Breaking News

सहरसा/पटना/ वैक्सीनेटेड परीक्षार्थी ही मैट्रिक और इंटरमीडिएट परीक्षा में होंगे शामिल

😊 Please Share This News 😊

मैट्रिक और इंटर परीक्षार्थियों के लिए कोविड टीकाकरण अनिवार्य

26 जनवरी तक पूर्ण आच्छादन के लिए टास्क फोर्स का होगा गठन

शतप्रतिशत टीकाकरण लक्ष्य प्राप्त करने वाले विद्यालय होंगे सम्मानित

 

सहरसा : मैट्रिक और इंटर की परीक्षाएं नजदीक हैं। आगामी माह से इन परीक्षाओं की शुरुआत होगी। इन परीक्षाओं में बैठने वाले सभी परिक्षार्थियों के लिए कोविड टीकाकरण को अनिवार्य कर दिया गया है। परीक्षा में वैसे ही छात्र—छात्राओं को शामिल होने दिया जायेगा जिन्होंने अपना कोविड टीकाकरण कराया है। स्वास्थ्य तथा शिक्षा विभाग समन्वय स्थापित करते हुए यह सुनिश्चित करेगा कि कोई भी परीक्षार्थी कोविड टीकाकरण से वंचित नहीं रहें और अपनी परीक्षाओं में शामिल हों सकें। इस संबंध में बिहार सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिलाधिकारी तथा सिविल सर्जन को आवश्यक दिशा—निर्देश दिये गये हैं।

अपर मुख्य सचिव ने दिये आवश्यक निर्देश:

सिविल सर्जन डॉ अवधेश कुमार ने बताया स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत द्वारा पत्र के माध्यम से जारी निर्देश में कहा गया है कि राज्य के सभी 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के किशोर एवं किशोरियों को कोविड 19 के संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण कराया जा रहा है। आगामी माह में मैट्रिक से इंटरमीडिएट तक परीक्षा का संचालन किया जाना है। सभी बोर्ड जैसे बिहार बोर्ड, सीबीएसई एवं आईसीएसई परीक्षा में सामान्यत: इस आयुवर्ग के परीक्षार्थी सम्मिलत होते हैं। इस परीक्षा में कोविड टीकाकरण के लिए योग्य लाभार्थी काफी संख्या में शामिल होते हैं। कोविड 19 संक्रमण की रोकथाम के लिए आवश्यक है कि सभी योग्य लाभार्थियों का टीकाकरण परीक्षा के पूर्व कर लिया जाये।

जिला तथा प्रखंड स्तर पर होगी टास्क फोर्स:

सिविल सर्जन डॉ अवधेश कुमार ने बताया अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत द्वारा जारी निर्देश में कहा गया है कि जिला में 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग एवं मैट्रिक से इंटरमीडिएट तक की परीक्षा में सम्मिलत परीक्षार्थियों का 26 जनवरी तक कोविड टीकाकरण से पूर्ण आच्छादन के लिए जिला स्तरीय टास्क फोर्स गठित की जाये। इसके लिए जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक कर टास्क फोर्स का गठन किया जाना है। जिसमें सिविल सर्जन, जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक तथा सहयोगी संस्था के प्रतिनिधि शामिल रहेंगे। प्रखंड स्तर पर टास्क फोर्स गठित करने के लिए बीडीओ की अध्यक्षता में बैठक करनी है। जिसमें प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक तथा सहयोगी संस्थाओं के प्रतिनिधि शामिल रहेंगे। निर्देश में कहा गया है कि जिला एवं प्रखंड स्तर पर प्रतिदिन संध्याकाल बैठक के दौरान टीकाकरण कार्य की समीक्षा अनिवार्य रूप से करनी है। वहीं वैसे विद्यालय जिनके द्वारा शतप्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य प्राप्त कर लिया गया है उन्हें गणतंत्र दिवस के मौके पर सम्मानित किया जाये।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!