सहरसा/ पूर्व में किए गए समाजसेवाओं की बदौलत मतदाताओं की पहली पसंद बन चुके हैं पिणाकधर झा – News4 All

News4 All

Latest Online Breaking News

सहरसा/ पूर्व में किए गए समाजसेवाओं की बदौलत मतदाताओं की पहली पसंद बन चुके हैं पिणाकधर झा

😊 Please Share This News 😊

 

सत्तरकटैया (सहरसा) : प्रखंड के बारा पंचायत से मुखिया पद के लिए चुनाव लड़ रहे पिणाकधर झा अपने द्वारा किए गए सामाजिक कार्यों के कारण मुखिया के रूप में मतदाताओं की पहली पसंद बन चुके हैं । प्रत्याशी पिणाकधर झा को अपने मतदाताओं के उपर पूरा विश्वास है । वैसे तो इस चुनाव में मुखिया पद के लिए कई प्रत्याशी मैदान में हैं । इनमें से कुछ तो ऐसे हैं जो चुनाव के समय मैदान में आए हैं और कुछ जनता के बीच होते हुए भी जनता की जनता की सच्ची सेवा नहीं कर पाए ।

ज्ञात हो कि पिणाकधर झा कुछ माह पूर्व ही सरकारी सेवा से सेवानिवृत्त हुए हैं । वे अपनी सेवा के दौरान जब भी अवकाश में अपने घर बारा आते तो निःस्वार्थ भाव से जरूरतमंदों की मदद करते थे । वे सिर्फ सरकारी योजनाओं का लाभ लेने में ही मदद नहीं करते थे बल्कि व्यक्तिगत रूप से भी लोगों की आर्थिक व मानसिक मदद करते थे । इन्ही कारणों से मतदाताओ का रुझान मुखिया प्रत्याशी टेम्पू छाप के उम्मीदवार पिणाकधर झा की तरफ है ।

पिणाकधर झा ने बताया कि वे निःस्वार्थ भाव से जनता की सेवा के लिए मैदान में उतरे हैं । वे आगे बताते हैं कि उनका मुख्य उद्देश्य पारदर्शी तरीके से सरकारी योजनाओं का शत प्रतिशत जनता तक पहुँचाना है । इसके अगर उन्हें किसी पदाधिकारी से भी लड़ना पड़े तो वे पीछे नही हटेंगे । उन्होंने निवर्तमान व पूर्व जनप्रतिनिधियों के कार्यों का जिक्र करते हुए कहा कि जनता सब देख रही है । मतदाताओं को समझ मे आ गया है कि कौन से प्रत्याशी सरकारी योजनाओं को लूट चुके हैं और कौन से प्रत्याशी ईमानदारी से अपने कार्यों का निर्वहन करेंगे । उन्होंने बारा, लालगंज, भरना सहित समस्त पंचायत के मतदाताओं से अपील की है कि जिस तरह से अब तक उन्होंने उनके उपर विश्वास किया है इसे बरकरार रखते हुए 20 अक्टूबर को होनेवाले चुनाव में टेम्पू छाप पर वोट करें ।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]
error: Content is protected !!